बिना Coaching के Competitive Exam की तैयारी कैसे करें - State Jobs

Breaking

Thursday, July 25, 2019

बिना Coaching के Competitive Exam की तैयारी कैसे करें

चलिए अब जानते हैं की कैसे आप बिना कोई Coaching के ही Competitive Exam की तैयारी कैसे करें.


1. Syllabus को सबसे पहले समझें 

इस पूरी प्रक्रिया की सबसे पहली चीज़ जो आपको करनी है वो है की परीक्षा की Syllabus को समझें. ऐसा इसलिए क्यूंकि प्रत्येक competitive exam की एक  defined syllabus होती है जिसे की आपको समझना होता है, तभी जाकर आप उसमें successful हो सकते हैं.
इसके लिए आप previous year question papers को refer कर सकते हैं और उनकी difficulty level के साथ साथ exam pattern देख सकते हैं. इससे आपको सही Syllabus का एक idea जरुर हो जायेगा.

2. अपने आपको भी समझना होगा 

केवल exam के syllabus को समझने से सबकुछ नहीं होगा, पहले आपको अपने आपको भी समझना होता है. ऐसा इसलिए क्यूंकि हर कोई सभी परीक्षा के लिए उपयुक्त नहीं होता है.
ऐसे में आप अपने आप की एक SWOT analysis करें, ये समझने के कलिए की आप किस चीज़ में अच्छे हैं और किस्में नहीं. चूँकि आपने पहले ही syllabus को समझ लिया है इसलिए आपको ये खोजने में आसानी होगी की आप किन क्षेत्र में सबल है और किनमें निर्बल.

3. अपना daily routine तैयार करें 

अगर आप किसी परीक्षा के लिए self-study कर रहे हैं, तब ये बहुत ही महत्वपूर्ण है की आपकी एक fixed daily routine होनी चाहिए और सबसे जरुरी बात ये की आपको उसे पूर्ण रूप से पालन भी करनी चहिये.
इससे आपको अपने तय किये गए milestones को सही समय में पहुँचने में आसानी होगी वहीँ आप अपनी preparation को सभी ढंग से track भी कर सकते हैं.


4. ज्यादा से ज्यादा mock tests देने की कोशिश करें 

Mock Test एक तरह से असली परीक्षा की एक demo होती है ऐसे में आप जितनी ज्यादा mock tests देंगे उतने ही ज्यादा अआप अपने level of preparation को जाँच सकते हैं दुसरे contestants के साथ. वहीँ ये आपको आपके आखिर के परीक्षा के लिए तैयार भी करता है.

5. Subjects की Revision या पुनारुवृति करना बहुत ही आवश्यक होता है 

Revision करना एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होता है किसी भी परीक्षा की तैयारी में. ये शायद किसी के पक्ष में संभव नहीं है की वो एक ही बार पढ़ के कोई भी पाठ स्मरण कर लें.
किसी भी पाठ को सही ढंग से याद रखने के लिए Multiple revisions करने की बहुत ही जरूरत होती है.

6. अपने सुविधा अनुसार पढाई करें : 

ये बात तो सही है की पढाई को सही मन से और comfortable होकर पढाई करें. आपको ये जानना होगा की आप किस समय में पढाई करने में comfortable होते हैं.
मतलब की अगर आप सुबह उठना पसंद करते हैं तब आपको सुबह ही पढना चाहिए, वहीँ यदि आप देर रात तक जागने से comfortable हैं तब आपको रात को ही पढाई करनी चहिये. ऐसा करने से आपका मन और शारीर दोनों ही पढाई करने में आपकी मदद करेंगे.

7. आगे बढ़ने की चाह प्रबल होनी चाहिए 

आपने अपने preparation करने के समय में बहुत बार फ़ैल हो सकते हैं लेकिन आपको हमेशा आगे बढ़ने के बारे में सोचना चाहिए. आप एक बार फ़ैल हो सकते हैं, दो बार फ़ैल हो सकते हैं लेकिन अगर आप इस बात पर अड़ जाएँ की जब तक आप सफल न हो जाये तब तक परिश्रम करना नहीं छोड़ेंगे तब आप निश्चित ही सफल होंगे.

8. पढाई करने के लिए कम ही books को follow करें 

यहाँ मेरे कहने का मतलब ये है की आपको बहुत ज्यादा books नहीं खरीदनी चाहिए अपने परीक्षा की तैयारी करने के लिए. बल्कि कुछ selected books ही खरीदनी चाहिए और उसे ही निरंतर पढना चाहिए. Quantity के स्थान पर Quality का चुनाव करें. ऐसा करने से ही आप अपने उद्यम में सफल हो सकते हैं.

9. सोने का एक fixed time सेट करें 

हमारे शरीर को निद्रा की काफी जरुरत होती है. इसका मतलब ये नहीं की आप दिनभर केवल सोयें. इसके स्थान पर आप अपने सोने की एक fixed समय तय करें जिसमें की आप सोयें.
ऐसा करने आपको अगले दिन काफी ताजगी मह्सुश होगी. वहीँ आप अगले दिन भी actively अपने कार्य कर सकते हैं. इसलिए करीब 7 से 8 घंटे की निद्रा हमारे शारीर के लिए काफी होती है. इससे आपको बेहतर परिणाम भी मिलेंगे.

10. अच्छे परिणाम के बारे में सोचें 

Positive रहना और सोचना किसी भी कार्य करने के लिए बहुत ही जरुरी होता है. ऐसे लोगों को ही सफलता प्राप्त होती है.
आपको हमेशा अच्छे ढंग से Prepare करना चाहिए और साथ भी अभ्यास भी. परिणाम के विषय में ज्यादा चिंता न करें. अगर आप अपने exam preparation को enjoy कर रहे हैं तब आप निश्चित रूप से कोई भी competitive परीक्षा में सफल हो सकते हैं.

11. अपने आपको को समय समय में DE-stress करें :

परीक्षा की तैयारी करते समय Stress का होना लाजमी है. ऐसा बहुत बार देखा जाता है की असफल होने पर छात्र stressed हो जाते हैं.
इसलिए आपको ऐसे रास्ते ढूंडने चाहिए जिससे की आप एक regular basis में  de-stress हो सकें और अपने आपको relax रख सकें. यदि आप ऐसा कर रहे होते हैं तब आप अपने आपको लम्बे समय तक stress-free रख सकते हैं.

12. परीक्षा को लेकर ज्यादा मत सोचें :

चाहे वो कोई भी परीक्षा क्यूँ न हो आपको उसके विषय में ज्यादा चिंता नहीं करनी चाहिए. क्यूंकि किसी भी परीक्षा का परिणाम हमारे हाथों में नहीं होती है. इसलिए उसकी चिंता करना व्यर्थ है.
वहीँ हमें अपनी दैनिक तैयारी करने पर ज्यादा जोर देना चाहिए. क्यूंकि सही ढंग से तैयारी करना हमारे हाथों में इसलिए यदि हम अपना काम प्रत्येक दिन सही ढंग से करें तब आसानी से हम अपना लक्ष्य जरुर से प्राप्त कर सकते हैं, इसमें थोड़ी भी शंका नहीं है.

No comments:

Post a Comment